भारत के मुखिय नदियों, भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ

Join Whats App Group 
Join Telegram Channel 

Point :- भारत के मुखिय नदियों, भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ

इस आलेख के माध्यम से आप विस्तार से जान पाएंगे
* भारत की प्रमुख नदियों के उपनाम :-
* भारत की गंगा नदी :-
* भारत की यमुना नदी :-
* भारत की सरस्वती नदी :-
* भारत की क्षिप्रा नदी :-
* भारत की नर्मदा नदी :-
* भारत की गोदावरी नदी :-
* भारत की कावेरी नदी :-
* भारत की कृष्णा नदी :-
* भारत की ब्रह्मपुत्र नदी :-
* भारत की महानदी :-
* भारत की उदगम स्रोत – गंगोत्री हिमनद :-
* भारत की भागीरथी नदी :-
* भारत की सरयू नदी :-
* भारत की झेलम नदी :-
* भारत की चंबल नदी :-
* भारत की बेतवा नदी :-
* भारत की सिंध नदी :-
* भारत की सोन नदी :-
* भारत की जुवारी नदी :-
* भारत की मांडोवी नदी :-
* भारत की काली नदी :-
* भारत की शरावती नदी :-
* भारत की चिनाब नदी :-
* भारत की सतलुज नदी :-
* भारत की काली सिन्ध नदी :-
* भारत की घाघरा नदी :-
* भारत की गंडक नदी :-
* भारत की ताप्‍ती नदी :-
* भारत की तुंगभद्रा नदी :-
* भारत की पेरियार नदी :-
* भारत की तीस्ता नदी :-
* भारत की हुगली नदी :-
* भारत की कोयना नदी :-

भारत की प्रमुख नदियों के उपनाम :-
वृद्ध गंगा – गोदावरी नदी
बिहार का शोक – कोसी नदी
पविञ नदी – गंगा नदी
दक्षिण भारत की गंगा – कावेरी नदी
सदानीर – गंडक नदी
आस्किनी – चिनाव नदी
शतुद्रि – सतलज नदी
विपाशा – व्‍यास नदी
वितस्ता – झेलम नदी
पुरुष्णी – रावी नदी |

भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ :-
भारत की नदियाँ इस देश की प्राचीन सभ्यताओं का एक महत्वपूर्ण अंग है और हमारे देश के लगभग सभी धार्मिक स्थलो को जीवन देने वाली है नदियों के देश कहे जाने वाले भारत में जहा आज भी नदियों की पूजा की जाती है, आइए जानते है कुछ रोचक तथ्य एवं जानकारी भारत की नदिया और उनके उदगम स्थल के बारे मे |भारत के मुखिय नदियों, भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ |

भारत की गंगा नदी :-
उदगम स्रोत – गंगोत्री हिमनद
लंबाई – 2,525 कि.मी
मुहाना – सुंदरवन, बंगाल की खाड़ी
गंगा नदी भारत की सबसे महत्त्वपूर्ण एवं पवित्र नदी है जिसे माँ तथा देवी के रूप मे भी पूजा जाता है, इस नदी के तट पर कई धार्मिक स्थल है जिनका भारतीय सामाजिक एवं सांस्कृतिक व्यवस्था की दृष्टि से अत्यन्त महत्त्वपूर्ण योगदान है |

भारत की यमुना नदी :-
उदगम स्रोत – यमुनोत्री
लंबाई – 1,376 कि.मी
मुहाना – त्रिवेणी संगम, इलाहाबाद
यमुना नदी, गंगा नदी की सबसे बड़ी सहायक नदी है जो यमुनोत्री नामक जगह से निकलती है और इलाहाबाद में गंगा तथा सरस्वती नदी से मिल जाती है |भारत के मुखिय नदियों, भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ |

भारत की सरस्वती नदी :-
सरस्वती नदी एक प्राचीन एवं पौराणिक काल की नदी है जिसका विवरण वेदों में भी है, यह भारत की तीसरी पवित्र नदी है तथा प्रयाग में तीन नदियों का संगम है (यमुना नदी, गंगा नदी और सरस्वती नदी) |भारत के मुखिय नदियों, भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ |

भारत की क्षिप्रा नदी :-
उदगम स्रोत – धार
लंबाई – 196 कि.मी
मुहाना – चंबल नदी
भारत की क्षिप्रा नदी मध्य भारत मे बहाने वाली एक ऐतिहासिक नदी है, इस नदी के किनारे उज्जैन महाकाल ज्योतिर्लिंग है और चार स्थानो मे से एक कुम्भ का मेला इसी नदी के किनारे लगता है |भारत के मुखिय नदियों, भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ |

भारत की नर्मदा नदी :-
उदगम स्रोत – अमरकंटक
लंबाई – 1,312 कि.मी
मुहाना – खम्भात की खाड़ी, अरब सागर
नर्मदा नदी एक पवित्र, दिव्य व रहस्यमयी नदी है जिसका स्रोत अमरकंटक में नर्मदा कुंड से हुआ है! नर्मदा नदी, गोदावरी नदी और कृष्णा नदी के बाद पूर्ण रूप से भारत देश के अंदर बहने वाली तीसरी सबसे लंबी नदी है।भारत के मुखिय नदियों, भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ |

भारत की गोदावरी नदी :-
उदगम स्रोत – त्रयंबकेश्वर
लंबाई – 1,465 कि.मी
मुहाना – बंगाल की खाड़ी
गोदावरी नदी जिसे दक्षिण गंगा भी कहा जाता है, महाराष्ट्र में नासिक जिले से निकलती है और आंध्र प्रदेश से बहते हुए बंगाल की खाड़ी मे जाकर मिलती है |

भारत की कावेरी नदी :-
उदगम स्रोत – तालाकावेरी
लंबाई – 760 कि.मी
मुहाना – कावेरी डेल्टा, बंगाल की खाड़ी
कावेरी नदी दक्षिण भारत में गोदावरी और कृष्णा के बाद तीसरी सबसे बड़ी नदी है, इस नदी के किनारे बसा तिरुचिरापल्ली शहर हिन्दुओं का प्रसिद्ध तीर्थ स्थान है।

भारत की कृष्णा नदी :-
उदगम स्रोत – महाबलेश्वर
लंबाई – 1290 कि.मी
मुहाना – बंगाल की खाड़ी
कृष्णा नदी महाबलेश्वर पर्वत से निकलती है और बंगाल की खाड़ी में जाकर गिरती है। इस नदी को हिंदुओं द्वारा पवित्र माना जाता है। और कहा जाता है की इस नदी मे स्नान करके लोगों के सभी पापों का अंत होता है |

भारत की ब्रह्मपुत्र नदी :-
उदगम स्रोत – तिब्बत, कैलाश पर्वत
लंबाई – 2900 कि.मी
मुहाना – बंगाल की खाड़ी
ब्रह्मपुत्र नदी भारत की एक मात्र नदी है जिसका नाम पुल्लिंग है – शाब्दिक अर्थ ब्रह्मा का पुत्र, ब्रह्मपुत्र नदी एक बहुत लम्बी नदी है जिसका उद्गम तिब्बत में कैलाश पर्वत के निकट है |

भारत की महानदी :-
उदगम स्रोत – धमतरी
लंबाई – 885 कि.मी
मुहाना – बंगाल की खाड़ी
महानदी का उद्गम रायपुर के समीप धमतरी जिले से हुआ है तथा यह छत्तीसगढ़ तथा उड़ीसा राज्यो से होकर विशाल रूप धारण कर बंगाल की खाड़ी में मिल जाती है |

भारत की उदगम स्रोत – गंगोत्री हिमनद :-
लंबाई – 195 कि.मी
मुहाना – गंगा
अलकनंदा नदी, पवित्र गंगा के दो मुख्यधाराओं में से एक है और इसकी अधिक लंबाई और निर्वहन के कारण गंगा की स्रोत धारा माना जाता है |
भारत की भागीरथी नदी :-
उदगम स्रोत – गंगोत्री हिमनद
लंबाई – 205 कि.मी
मुहाना – गंगा
भागीरथी नदी, देवप्रयाग में अलकनंदा नदी से मिलकर पवित्र गंगा नदी का निर्माण करती है. टिहरी बाँध भागीरथी नदी तथा दूसरी सहयोगी भीलांगना नदी के संगम पर बना है जो की विश्व का पाँचवा सबसे ऊँचा बाँध है |

Rajasthan Geography Hand Writing Notes PDF:- Buy Now
Computer Digital Notes PDF:- Buy Now

भारत की सरयू नदी :-
सरयू नदी एक वैदिक कालीन नदी है जो हिमालय से निकलकर अयोध्या से होकर गंगा में मिल जाती है |

भारत की झेलम नदी :-
झेलम नदी शेषनाग झील से निकलती है और यह कश्मीर घाटी की सुन्दरता में चार-चाँद लगा देती है |

भारत की चंबल नदी :-
उदगम स्रोत – जानापाव पर्वत
लंबाई – 966 कि.मी
मुहाना – यमुना
चंबल नदी महू से निकलती है और मध्य प्रदेश – राजस्थान के बीच सीमा बनती हुई उत्तर प्रदेश राज्य में यमुना नदी से मिल जाती है! इसकी मुख्य सहायक नदिया शिप्रा, सिंध, कलिसिन्ध, ओर कुननों नदी है।

भारत की बेतवा नदी :-
उदगम स्रोत – होशंगाबाद
लंबाई – 590 कि.मी
मुहाना – यमुना
बेतवा नदी मध्य-प्रदेश के होशंगाबाद के उत्तर में विंध्य पर्वत से निकलकर विदिशा, ओरछा आदि जिलों से बहती हुई यमुना नदी मे जा मिलती है |

भारत की सिंध नदी :-
उदगम स्रोत – विदिशा
लंबाई – 470 कि.मी
मुहाना – यमुना
सिंध नदी, यमुना नदी की एक सहायक नदी है जो मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश राज्यो से बहती हुई चंबल नदी के संगम के बाद यमुना नदी से मिलती है |

भारत की सोन नदी :-
उदगम स्रोत – अमरकंटक
लंबाई – 784 कि.मी
भारत की मुहाना – गंगा
सोन नदी अमरकंटक से निकलती है और यमुना नदी के बाद गंगा की दूसरी सबसे बड़ी सहायक नदी है जो पहाड़ियों से गुजरते हुए पटना के समीप जाकर गंगा नदी में मिल जाती है।

भारत की जुवारी नदी :-
उदगम स्रोत – पश्चिमी घाट
लंबाई – 92 कि.मी
मुहाना – अरब़ सागर
जुवारी नदी गोवा राज्य में बहने वाली सबसे लम्बी नदी है और गोआ राज्य मे ही मांडोवी नदी से मिलकर बन्दरगाह के लिए मुहाना बनाकर अरब सागर में मिलती है |

भारत की मांडोवी नदी :-
मांडोवी नदी, ज़ुआरी नदी के साथ गोवा की दो प्रमुख नदियों में से एक है जो भारत के राज्य कर्नाटक और गोवा से होकर बहती है! मांडोवी नदी और जुवारी नदी आपस में मिलकर एक मुहाना बनाती हैं जो की गोवा के कृषि क्षेत्र का प्रमुख कारक हैं |

भारत की काली नदी :-
काली नदी कर्नाटक राज्य के उत्तरा कन्नड़ मे रहने वेल लोगो की जीवन रेखा है, सदाशिवगढ़ किला तटीय राजमार्ग के पास काली नदी के समीप स्थित एक बहुत ही लोकप्रिय पर्यटन स्थल है |

भारत की शरावती नदी :-
शरावती नदी दक्षिण भारत की एक प्रमुख नदी हैं जो कर्नाटक राज्य के शिमोगा जिले से निकलती है और भारतभर में प्रसिद्ध जोग जल प्रपात बनती है

भारत की चिनाब नदी :-
चिनाब नदी पंजाब क्षेत्र की 5 प्रमुख नदियों में से एक , यह नदी दो नदियों, चंद्र और भाग के संगम द्वारा बनती है जिसका महाभारत मे भी उल्लेख मिलता है |

भारत की सतलुज नदी :-
सतलुज नदी भी पंजाब में बहने वाली पाँचों नदियों में से एक है और इसकी लंबाई सबसे ज़्यादा है, इस नदी पर हिमाचल प्रदेश मे भाखड़ा नांगल बांध बनाया गया है |

भारत की काली सिन्ध नदी :-
काली सिन्ध नदी मध्यप्रदेश के देवास से निकलती है और राजस्थान राज्य से प्रवाहित होते हुए यह चम्बल नदी की सहायक नदी बन जाती है |

भारत की घाघरा नदी :-
घाघरा नदी नेपाल से होकर बहती हुई उत्तर प्रदेश एवं बिहार में प्रवाहित होती है तथा छपरा के बीच यह गंगा में मिल जाती है |

भारत की घाघरा नदी :-
कोसी नदी बिहार मे बाढ से बहुत तबाही लाने वाली नदी है इसलिए इसे बिहार का अभिशाप भी कहा जाता , यह हिमालय की ऊँची पहाड़ियों से होते हुए गंगा में मिल जाती है।

भारत की गंडक नदी :-
गंडक नदी नेपाल और बिहार में बहने वाली एक नदी का नाम है, यह हिमालय से निकलकर उत्तर प्रदेश तथा बिहार राज्यों के बीच सीमा निर्धारित करती हुई पटना के संमुख गंगा में पर मिल जाती है |

भारत की ताप्‍ती नदी :-
ताप्ती नदी पूर्व से पश्चिम की ओर बहने वाली नदी है यह लगभग 740 कि.मी लंबी है और खम्बात की खाड़ी में जाकर मिलती है! ताप्ती नदी का उद्गम स्थल मध्य प्रदेश के बैतूल जिले से हुआ है और यह सूरत मे बन्दरगाह मुहाना बनाते हुए अरब सागर मे जा मिलती है |

भारत की तुंगभद्रा नदी :-
उदगम स्रोत – पश्चिमी घाट
लंबाई – 531 कि.मी
मुहाना – कृष्णा
तुंगभद्रा नदी कर्नाटक, आन्ध्र प्रदेश एवं तेलंगाना में बहती है और कृष्णा नदी में मिल जाती है, इस नदी का जन्म पश्चिमी घाट के गंगामूला नामक स्थान से तुंगा एवं भद्रा नदियों के मिलन से हुआ है और विश्व विख्यात शहर हंपी तुंगभद्रा नदी के किनारे बसा हुआ है |

भारत की मानस नदी :-
मानस नदी दक्षिणी भूटान और भारत के बीच तलहटी मे बहती है, यह भूटान की सबसे बड़ी नदी प्रणाली है आसम राज्य के जोगिगोपा में शक्तिशाली ब्रह्मपुत्र नदी में शामिल हो जाती है |

भारत की पेरियार नदी :-
उदगम स्रोत – पश्चिमी घाट
लंबाई – 244 कि.मी
मुहाना – अरब़ सागर

भारत की पेरियार नदी :-
केरल राज्य के पश्चिमी घाट से निकलकर पश्चिम में प्रवाहित होती और अरब़ सागर से मिलती है, यह भारतीय राज्य केरल में सबसे बड़ी निर्वहन क्षमता वाली सबसे लंबी नदी है |

भारत की तीस्ता नदी :-
उदगम स्रोत – लहमो झील
लंबाई – 310 कि.मी
मुहाना – ब्रह्मपुत्र
तीस्ता नदी सिक्किम और जलपाइगुड़ी विभाग की मुख्य नदी है, इस नदी को सिक्किम राज्य की जीवनरेखा भी कहा जाता है, जो आगे जा कर और ब्रह्मपुत्र नदी में मिल जाती |

भारत की हुगली नदी :-
हुगली नदी वास्तव मे गंगा नदी की ही एक शाखा है जो फराक्का बैराज से निकली है और पश्चिम बंगाल के माध्यम से दक्षिण की ओर बहती हुए अंत में बंगाल की खाड़ी मे जा मिलती है |

भारत की कोयना नदी :-
उदगम स्रोत – महाबळेश्वर
लंबाई – 130 कि.मी
मुहाना – कृष्णा
कोयना नदी पश्चिमी भारत की एक प्रमुख नदी है जो महाबालेश्वर से निकलती है और कृष्णा नदी की एक सहायक है जिसे महाराष्ट्र की लाइफ लाइन के रूप में जाना जाता है |

भारत के मुखिय नदियों, भारत की विशेष नदियों एंव सहायक नदियाँ  PDF 

Rajasthan Geography Question Bank:- Buy Now   
  Rajasthan History Question Bank:- Buy Now    
  Rajasthan Arts And Culture Questions Bank:- Buy Now   
  Indian Geography Question Bank:- Buy Now   
  Indian History Question Bank:- Buy Now   
  General Science Questions Bank:- Buy Now
Join WhatsApp Group
Follow On Instagram 
Subscribe YouTube Channel
Subscribe Telegram Channel

Treading

Load More...