भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग से संबधित जानकारी

Join Our WhatsApp Group 

भारत में कुल कितने राष्ट्रीय राजमार्ग है , भारत में कुल कितने राष्ट्रीय राजमार्ग है 2021 , भारत का सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग कौनसा है , भारत का सबसे व्यस्त राष्ट्रीय राजमार्ग , भारत का सबसे छोटा राष्ट्रीय राजमार्ग , टोटल नेशनल हाईवे इन इंडिया , राष्ट्रीय राजमार्ग 333 , राजस्थान का सबसे छोटा राजमार्ग कौनसा है ,

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग से संबधित जानकारी

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग :-
भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग, भारत की केन्द्रीय सरकार द्वारा संस्थापित और सम्भाले जानी वाली लंबी दूरी की सड़के है। मुख्यतः यह सड़के 2 पंक्तियो की है, प्रत्येक दिशा में जाने के लिए एक पंक्ति। भारत के राजमार्गो की कुल दूरी लगभग 4754000 किमी है, जिसमे से केवल 4,885 किमी की सड़को के मध्य पक्का विभाजन बनाया गया है। राजमार्गो की लंबाई भारत के सड़को का मात्र 2% है, लेकिन यह कुल यातायात का लगभग 40% भार उठाते है। 1995 में पास संसदीय विदेहक के तहत इन राजमार्गो को बनाने और रख-रखाव के लिए निजी संस्थानो की हिस्सेदारी को मंजूरी दी गई। हाल के समय में इन राजमार्गो का तेजी से विकास हुआ जिनके तहत भारत के शहर और कस्बो के बीच यातायात के समय में गिरावट आई। कुछ शहरो के बीच 4 और 6 पंक्तियों के राजमार्गो का भी विकास हुआ। भारत का सबसे बड़ा राजमार्ग राष्ट्रीय राजमार्ग ७ (NH44) है, जो j&k के श्रीनगर शहर को भारत के दक्षिणी कोने, तमिलनाडु के कन्याकुमारी शहर के साथ जोड़ता है। इसकी लंबाई 3745 किमी है। सबसे छोटा राजमार्ग NH118 हैं यह आसानी से जमशेदपुर है। इसकी लंबाई 5 किलोमीटर हैं।

राष्ट्रीय राजमार्गो का चौराह झांसी :-
सबसे बड़ा राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 44 है जो श्रीनगर को कन्याकुमारी से जोड़ता है इसकी कुल लंबाई 3745 किलोमीटर है।

भारत के सड़क नेटवर्क :-
एक्सप्रेस-वे – 200
राज्य राजमार्ग – 66590
प्रदेशी राजमार्ग – 128000
प्रमुख जिला सड़कें – 470000
ग्रामीण और अन्य सड़कें – 2650000
कुल (लगभग) – 3340000

भारत में सबसे लंबा राष्ट्रीय राजमार्ग :-
भारत में राष्ट्रीय राजमार्ग की काफी पेचीदा प्रणाली मौजूद है। यह देश के हर बड़े शहर को जोड़ती है। न सिर्फ बड़े शहरों को बल्कि ये सड़कें देश की लंबाई-चौड़ाई को भी जोड़ती हैं। इन सड़कों की कुल लंबाई 92851.05 किलोमीटर है और यह रोजाना बढ़ रही है।
अब उन पर नजर रख पाना भी एक बड़ा काम है। इन राजमार्गों की पहचान आसान बनाने के लिए उन्हें नम्बर दिये गए हैं। ज्यादातर राष्ट्रीय राजमार्ग का रखरखाव भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राध‍िकरण करती है। यह सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय के अंतर्गत काम करने वाला विभाग है।
2010 के एक सर्वे के मुताबिक भारत में राजमार्ग कुल सड़कों की लंबाई का केवल दो फीसदी है लेकिन देश के कुल वाहनों का 40 फीसदी इन राजमार्गों पर चलता है। तो, अगर आपको हैरानी हो रही है कि आख‍िर देश का सबसे लंबा हाईवे कौन सा है, तो हम आपके लिए लेकर आए हैं दस सबसे लंबे हाईवे।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 31 :-
दसवें नंबर पर आता है राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या एनएच 31। यह 1125 किलोमीटर लंबी सड़क झारखण्ड में बरही से शुरू होकर गुवाहाटी के जलुकबाड़ी तक जाती है। यह बिहार, झारखण्ड, पश्चिम बंगाल और असम से गुजरती है। इस हाइवे का कुछ हिस्सा ईस्ट-वेस्ट कॉरिडोर में आता है।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 3 :-
नंबर नौ पर है एनएच 3 या एबी रोड। आगरा और मुंबई को जोड़ने वाली इस सड़क की लंबाई है 1190 किलोमीटर। आगरा से ग्वालियर तक की सड़क नॉर्थ-साउथ कॉरिडोर में आती है। मुंबई की ओर जाने वाले एनएच 3 को ईर्स्टन एक्सप्रेस हाइवे कहा जाता है। मुंबई के बाद इसी सड़क को मुंबई-नासिक हाईवे कहा जाता है।

यह भी पढ़े :
राजस्थान के संत एंव सम्प्रदाय MCQ

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 4 :-
राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 4 एक बड़ा हाईवे है। यह आबादी के लिहाज से देश के सबसे बड़े दस शहरों में से चार को जोड़ता है। इसकी कुल लंबाई 1235 किलोमीटर हे। यह मुंबई, पुणे, बेंगलुरू और चेन्नई को जोड़ता है। यह महाराष्ट्र, कर्नाटक, आंध्रप्रदेश और तमिलनाडु से होकर गुजरने वाला राजमार्ग है।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 17 :-
राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 17 पश्च‍िमी तट से गुजरता है और उत्तर से दक्ष‍िण को जोड़ता है। यह पश्चिमी घाट के समांतर चलता है। यह महाराष्ट्र में पनवेल से केरल में कोच्च‍ि तक जाता है। यह हाईवे अन्य कई सड़कों के मुकाबले अध‍िक दर्शनीय है। 1269 किलोमीटर लंबा यह हाईवे, महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक और केरल से गुजरता है। इस हाईवे के किनारे छह अलग-अलग भाषा बोलने वाले लोग रहते हैं।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 8 :-
1428 किलोमीटर लंबा यह राष्ट्रीय राजमार्ग दो बड़े शहरों, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली को मुंबई से जोड़ता है। यह गुड़गांव, अजमेर, उदयपुर, अहमदाबाद, सूरत, जयपुर और वड़ोदरा से होकर गुजरता है। यह हाईवे स्वर्ण‍िम चतुर्भज प्रोजेक्ट का भी हिस्सा है।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 2 :-
दिल्ली कोलकाता मार्ग, भारत में सबसे व्यस्त सड़कों में से एक है। 1465 किलोमीटर लंबी यह सड़क दिल्ली, हरियाणा, उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखण्ड और पश्चिम बंगाल से होकर गुजरती है। यह सड़क एशियन रोड नेटवर्क एएच 1 का भी हिस्सा है। इस हाईवे के किनारे 34 शहर हैं।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 15 :-
एनएच 15 गुजरात में समाखिली को पंजाब में पठानकोट से जोड़ता है। इसकी कुल लंबाई 1526 किलोमीटर है। यह सड़क पंजाब, गुजरात और राजस्थान से होकर गुजरती है।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 5 :-
भारत के पूर्व समुद्र तट पर एनएच 5 एक बड़ा हाईवे है। इसकी कुल लंबाई 1533 किलोमीटर है। यह ओडि़सा, आंध्र-प्रदेश और तमिलनाडु से होकर गुजरता है। इसकी शुरुआत उड़ीसा में झारपोखरिया से होती है और यह तमिलनाडु में चेन्नई तक जाता है। एनएच 5 स्वर्ण‍िम चतुर्भज प्रोजेक्ट का भी हिस्सा है।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 6 :-
1949 किलोमीटर लंबा एनएच 6 भारत का दूसरा सबसे बड़ा हाईवे है। यह व्यस्त सड़क पश्चिम से पूर्व की ओर जाती है। गुजरात में हाजिरा से शुरू होकर यह पश्चिम बंगाल में कोलकाता तक जाती है। एनएच 6 गुजरात, महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़ ओडि़सा, झारखण्ड अैर पश्चिम बंगाल से गुजरती है।

भारत के राष्ट्रीय राजमार्ग एनएच 7 :-
2369 किलोमीटर लंबा एनएच 7 देश का सबसे बड़ा हाईवे है। यह 21 महत्वपूर्ण शहरों को जोड़ता है। इस हाईवे का निर्माण और रखरखाव केंद्रीय लोक सेवा विभाग यानी सीपीडब्ल्यूडी करता है। यह उत्तर प्रदेश में वाराणसी से शुरू होकर भारत के दक्ष‍िण छोर तक जाता है। यह हाईवे तमिलनाडु में कन्याकुमारी तक जाता है। भारत का यह सबसे लंबा हाईवे उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, तेंलगाना, आंध्रप्रदेश, कर्नाटक और तमिलनाडु से होकर गुजरता है।

General Note

Leave a Comment

error: Content is protected !!