भारत के प्रमुख बंदरगाह

भारत के बंदरगाह का मानचित्र , भारत के प्रमुख बंदरगाह PDF , विश्व के प्रमुख बंदरगाह , प्राचीन भारत के बंदरगाह , भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह कौन सा है , भारत का सबसे पुराना बंदरगाह कौन सा है , भारत का सबसे बड़ा कृत्रिम बंदरगाह , भारत में कितने बंदरगाह है ,

भारत के प्रमुख बंदरगाह है

भारत के प्रमुख समुद्री बंदरगाह :-
नौ तटीय भारतीय राज्यों गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, उड़ीसा और पश्चिम बंगाल भारत के सभी बड़े और छोटे बंदरगाहों के लिए घर हैं भारत मे कुल 12 प्रमुख समुद्री बंदरगाह हैं और कुछ निजी समुद्री बंदरगाह है जैसे की कृष्णापट्टनम पोर्ट, एन्नोर पोर्ट और मुंद्रा बंदरगाह भारत के 12 प्रमुख बंदरगाह निम्नानुसार सूचीबद्ध हैं।

भारत के कंडला बंदरगाह, गुजरात :-
कंडला बंदरगाह गुजरात के कच्छ जिले में गांधीधाम शहर के निकट कच्छ की खाड़ी में स्थित है। कांडला का बंदरगाह भारत के सबसे अधिक कमाई वाले बंदरगाहों में से एक है, गुजरात का दूसरा बंदरगाह मुंद्रा बंदरगाह है जो की भारत का सबसे बड़ा निजी बंदरगाह है |
नवावा शेवा जिसे जवाहरलाल नेहरू पोर्ट के रूप में जाना जाता है, भारत में सबसे बड़ा कंटेनर बंदरगाह है, जो कि नवी मुंबई महाराष्ट्र के कोंकण क्षेत्र की मुख्य भूमि पर स्थित है। जवाहरलाल नेहरू पोर्ट पश्चिम की ओर अरब सागर का राजा बंदरगाह है और यह अंतरराष्ट्रीय कंटेनर यातायात और घरेलू कार्गो यातायात की एक बड़ी मात्रा को संभालता है।

भारत के मुंबई बंदरगाह, महाराष्ट्र :-
मुंबई बंदरगाह पश्चिमी मुंबई के प्राकृतिक गहरे पानी मे भारत के पश्चिमी तट पर स्थित है। मुंबई पोर्ट भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह है और तरल रसायनों, कच्चे तेल और पेट्रोलियम उत्पादों को संभालने के लिए चार जेटी के साथ कार्गो यातायात का प्रबंधन करता है।

भारत के मर्मागाओ बंदरगाह, गोवा :-
मर्मागाओ बंदरगाह दक्षिण गोवा में स्थित भारत का सबसे अच्छा प्राकृतिक बंदरगाह है मार्मगाओ का बंदरगाह गोवा का सबसे बड़ा आकर्षण वास्को द गामा और अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे डबोलिम के साथ है। गोवा का प्राकृतिक बंदरगाह भारत के शुरुआती आधुनिक बंदरगाहों में से एक है।

भारत के पनमबूर बंदरगाह, कर्नाटक :-
पनमबूर बंदरगाह को नई मैंगलोर बंदरगाह के रूप में जाना जाता है, कर्नाटक के दक्षिणा कन्नड़ जिले में सुरथकल रेलवे स्टेशन के नजदीक एक बंदरगाह है। नया मैंगलोर बंदरगाह गहरे पानी के सभी मौसम बंदरगाह और कर्नाटक का एकमात्र प्रमुख बंदरगाह है!

भारत के कोचीन बंदरगाह, केरला :-
कोचीन बंदरगाह भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह है और अरब सागर और हिंद महासागर समुद्र मार्ग पर स्थित प्रमुख बंदरगाह है। कोचीन का बंदरगाह, विलिंगडन और वल्लरपदाम के दो द्वीपों पर स्थित है और भारत में सबसे बड़ी कंटेनर ट्रांज़िशन की सुविधा और बाकी सभी समुद्री सुविधाओं से लैस है|

भारत के टूटीकोरिन बंदरगाह, तमिलनाडु :-
टूटीकोरिन पोर्ट एक कृत्रिम गहरे समुद्र बंदरगाह है और भारत के 12 प्रमुख बंदरगाहों में से एक है। यह तमिलनाडु में दूसरा सबसे बड़ा बंदरगाह है. बंगाल की खाड़ी पर तटीकोरिन का बंदरगाह समुद्री व्यापार और मोती मत्स्य पालन के लिए सबसे अच्छा बंदरगाह है।

भारत के मद्रास बंदरगाह, तमिल नाडु :-
मद्रास पोर्ट भारत का सबसे पुराना बंदरगाह है और देश में दूसरा सबसे बड़ा बंदरगाह है। चेन्नई बंदरगाह बंगाल की खाड़ी में सबसे बड़ा बंदरगाह है और भारत के पूर्वी तट में कारों, बड़े कंटेनरों और कार्गो यातायात के लिए एक हब बंदरगाह है। चेन्नई पोर्ट टर्मिनलों के चारों ओर प्रकाशस्तंभ, इंट्रा पोर्ट कनेक्टिविटी, पाइपलाइन और रेलवे टर्मिनस हैं।

भारत के विशाखापत्तनम बंदरगाह, आंध्र प्रदेश :-
आंध्र प्रदेश राज्य के दक्षिण-पूर्वी तट पर स्थित विशाखापत्तनम पोर्ट भारत का सबसे बड़ा बंदरगाह है और देश का सबसे पुराना भी शिपयार्ड है। विशाखापटनम बंदरगाह बंगाल के किनारे में एकमात्र प्राकृतिक बंदरगाह है। कृष्णापटनम पोर्ट आंध्र प्रदेश में एक निजी तौर पर निर्मित गहरे पानी का बंदरगाह है।

भारत के पारादीप बंदरगाह, उड़ीसा :-
भारत के पूर्वी तट के कृत्रिम, गहरे पानी के बंदरगाह, उड़ीसा राज्य के जगत्सिंगपुर जिले में स्थित है। पारादीप का बंदरगाह पूर्वी लागत किनारे का मुख्य बंदरगाह है और महानदी और बंगाल की खाड़ी के संगम पर स्थित है। पारादीप पोर्ट की अपनी रेलवे प्रणाली, ठंडे हैंडलिंग प्लांट है और राष्ट्रीय राजमार्ग शेष भारतीय सड़क नेटवर्क के साथ बंदरगाह को जोड़ता है।

भारत के हल्दिया बंदरगाह, पश्चिम बंगाल :-
हल्दिया बंदरगाह या कलकत्ता बंदरगाह पश्चिम बंगाल राज्य में हुगली नदी के पास स्थित एक प्रमुख बंदरगाह है। हल्दिया के बंदरगाह कलकत्ता के लिए एक प्रमुख व्यापार केंद्र में से एक है और रसायन, पेट्रोकेमिकल्स और तेलों के बल्क कार्गो प्राप्त करता है।

भारत के पोर्ट ब्लेयर, अंडमान निकोबार :-
पोर्ट ब्लेयर अंडमान निकोबार द्वीप समूह की राजधानी है, भारत के संघ राज्य क्षेत्र बंगाल की खाड़ी और अंडमान सागर के पास स्थित है। पोर्ट ब्लेयर भारत में सबसे कम उम्र के समुद्री बंदरगाह है और देश के 12 प्रमुख बंदरगाहों में से एक है। अंडमान द्वीपों का एकमात्र बंदरगाह उड़ान और जहाज के माध्यम से भारत के मुख्य भूमि से जुड़ा हुआ है।

भारत के तटवर्ती इलाकों में बंदरगाह :-
भारत के तटवर्ती इलाकों में 13 बड़े बंदरगाह और 200 छोटे बंदरगाह हैं। बड़े बंदरगाह केंद्र सरकार और छोटे बंदरगाह राज्‍य सरकारों के अंतर्गत आते हैं।
देश में स्‍थित 13 बड़े बंदरगाह पूर्वी और पश्‍चिमी तटों पर समान रूप से बनाए गए हैं। कोलकाता, पारादीप, विशाखापत्तनम, हल्दिया, चेन्‍नई, एन्‍नोर और तूतीकोरिन बंदरगाह भारत के पूर्वी तट पर स्‍थित हैं, जबकि कोचीन, मंगलौर, मोरमुगाओ, मुंबई, न्हावाशेवा पर जवाहरलाल नेहरू और कांडला बंदरगाह पश्‍चिमी तट पर स्‍थित हैं।
भारत के प्रमुख बंदरगाह –
नाम नदी/समुद्र राज्य/के.शा.प्र.
मुंबई – अरबसागर – महाराष्ट्र
पारादीप – बंगाल की खाड़ी – आंद्रप्रदेश, ओडिशा
चेन्नई – बंगाल की खाड़ी – तमिलनाडु
विशाखापट्टनम – बंगाल की खाड़ी – आन्ध्र प्रदेश
कांडला – कच्छ की खाड़ी – गुजरात
मुर्मुगाव – अरबसागर – गोवा
जवाहरलालनेहरु – अरबसागर – महाराष्ट्र
कोचीन – अरब सागर – केरल
इन्नौर – बंगाल की खाड़ी – तमिलनाडु
हल्दिया – कोलकाता-हुगलीनदी – पशिम बंगाल
न्यू तूतीकोरिन – बंगाल की खाड़ी – तमिलनाडु
न्यू मंगलोर – अरब सागर – कर्नाटक
पोर्टब्लेयर – बंगाल की खाड़ी – अंडमान निकोबार द्वीप समूह

भारत के चेन्नई बंदरगाह :-
चेन्नई पोर्ट, मुंबई पोर्ट के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा बंदरगाह है। यह 125 वर्श से अधिक पुराना है। मुख्य कंटेनर पत्तन बनने से पूर्व यह प्रमुख यात्रा बंदरगाह भी था। 2008 में इसका कंटेनर परिवहन 10 लाख टी.ई.यू से अधिक था। यह वर्तमान में आने वाले समय में 91 वां सबसे बड़ा कंटेनर पोर्ट आंका गया है। चेन्नई पोर्ट बंगाल की खाड़ी में सबसे बड़ा बंदरगाह और भारत का दूसरा सबसे बड़ा सागरीय-व्यापार केन्द्र है, जहां ऑटोमोबाइल, मोटरसाइकिल, सामान्य औद्योगिक माल और अन्य थोक खनिज की आवा-जाही होती है। मुम्बई के बाद भारत का यही सबसे बड़ा पत्तन है। इस कृत्रिम बन्दरगाह में जलयानों के लंगर डालने के लिए कंक्रीट की मोटी दीवारें सागर में खड़ी करके एक साथ दर्जनों जलयानों के ठहराने योग्य पोताश्रय बना लिया गया है। दक्षिणी भारत का सारा दक्षिण-पूर्वी भाग (तमिलनाडु, दक्षिणी आन्ध्रप्रदेश तथा कर्नाटक राज्य) इसकी पृष्ठभूमि है।

भारत के समवर्ती सूची :-
-बंदरगाह वर्तमान मे भारतीय संविधान कि समवर्ती सूची मे शामिल किये गये है।
-भारत मे वर्तमान मे कुल 13 बड़े व 186 छोटे बंदरगाह है।
-बड़े बंदरगाहो पर नियंत्रण भारत सरकार का होता है। जबकी छोटे बंदरगाहो पर नियंत्रण राज्य सरकार का होता है।

भारत के मुम्बई बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह महाराष्ट्र (अरब सागर) मे स्थित है।
-यह भारत का सबसे बड़ा प्राकृतिक बंदरगाह है।
-इसे भारत का प्रवेश द्वार भी कहते है।

भारत के विशेष- न्युयॉर्क बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह अमेरिका मे स्थित है।
-यह विश्व का सबसे बड़ा बंदरगाह है।
-यह बंदरगाह अमेरिका कि प्रसिद्ध नदी हड़सन नदी पर स्थित है।

भारत के काण्डला बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह कच्छ कि खाड़ी (गुजरात) मे स्थित है।
-यह भारत का पहला कर मुक्त बंदरगाह है।
-यह रसायनिक तथा ज्वारीय बंदरगाह है।
विशेष- फण्डी कि खाड़ी- यह खाड़ी अमेरिका व कनाडा के बीच स्थित है। जिसमे विश्व का सबसे ऊँचा ज्वार-भाटा आता है।

भारत के पाराद्वीप बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह ओडीसा मे स्थित है।
-यह भारत का एकमात्र ऐसा बंदरगाह है। जो सभी मौसमो मे काम करता है।
-यह भारत का स्थलबद्ध/Land Locked बंदरगाह है।

भारत के हल्दिया बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह पश्चिम बंगाल मे स्थित है।
-यह बंदरगाह भारत मे जुट/सण/मेस्ता के निर्यात के लिए प्रसिद्ध है।

भारत के विशाखापट्टनम बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह आन्द्र प्रदेश मे स्थित है।
-यह भारत का सबसे गहरा प्राकृतिक बंदरगाह है।
-यह भारत का सबसे सुरक्षित बंदरगाह है।
-यह भारत का स्थलबद्ध/Land Locked बंदरगाह है।
-यह भारत मे तेल आयात-निर्यात के लिए प्रसिद्ध है

भारत के तुतीकोरेन बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह तमिलनाडु मे स्थित है।
-यह भारत का सबसे प्राचीन प्राकृतिक बंदरगाह है।
-इस बंदरगाह को चिदम्बरनार/चिम्बदराम भी कहते है।
-यह बंदरगाह गर्म मसालो के लिए प्रसिद्ध है।

यह भी पढ़े :
कीर्ति चक्र अवॉर्ड

भारत के दाहेज बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह गुजरात मे स्थित है।
-यह भारत का निजि क्षेत्र का पहला बंदरगाह है।
-यह बंदरगाह रसायनो के आयात निर्यात के लिए प्रसिद्ध है।

भारत के न्यूमंगलौर बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह कर्नाटक मे स्थित है।
-यह भारत का सबसे छोटा प्राकृतिक बंदरगाह है।

भारत के न्हावाशेवा बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह मुम्बई मे स्थित है।
-इस बंदरगाह को जवाहर लाल नेहरू बंदरगाह भी कहते है।

भारत के पोर्ट ब्लेयर बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह अण्डमान मे स्थित है।
-यह भारत का 13 वा तथा नविन्तम न बंदरगाह है।

भारत के चेन्नई बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह तमिलनाडु मे स्थित है।
-यह भारत का सबसे प्राचिन कृत्रिम बंदरगाह है।
-यह बंदरगाह भारत मे तम्बाकु निर्यात के लिए प्रसिद्ध है।

भारत के धनुषकोण्डी बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह केरल मे स्थित है।
-यह बंदरगाह गर्म मसालो के लिए प्रसिद्ध है।

भारत के मार्मागाओ/मार्मुगावो बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह गोवा मे स्थित है।
-यह बंदरगाह लौह निर्यात के लिए प्रसिद्ध है।

भारत के कोचिन बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह केरल मे स्थित है।
-यह बंदरगाह गर्म मसालो के लिए प्रसिद्ध है।

भारत के एन्नौर बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह तमिलनाडु मे स्थित है।

भारत के अलेप्पी बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह केरल मे स्थित है।

भारत के मझगाँव बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह मुम्बई मे स्थित है।

भारत के पोरबन्दर बंदरगाह :-
-यह बंदरगाह गुजरात मे स्थित है।

General Notes

Leave a Comment

error: Content is protected !!