अखिल भारतीय अशोक सेना

Join Our WhatsApp Group 

अखिल भारतीय अशोक सेना

अखिल भारतीय अशोक सेना :-
अखिल भारतीय अशोक सेना ने राष्ट्रीय चिह्नों के अपमान के लिए कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी की निंदा कर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की है।
सोमवार को यहां हुई बैठक में प्रदेश सचिव बालेंद्र तिवारी ने बताया आज देश में भ्रष्टाचार बढ़ने और और शिष्टाचार में कमी से तमाम समस्याएं उत्पन्न हो गई हैं। भ्रष्टाचारियों को लूटखसोट की छूट मिल गई है। इससे संसद में अखाड़े जैसा माहौल बना रहता है। इसका ताजा उदाहरण कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी है जिन्होंने कानून व्यवस्था की परवाह न करते संविधान व राष्ट्रीय चिह्न के अपमानजनक कार्टून बनाने का दुस्साहस किया। लचीला संविधान होने की वजह से असीम को जमानत पर रिहा कर दिया गया। असीम त्रिवेदी पर कानूनी कार्रवाई की जाए जिससे कोई व्यक्ति राष्ट्रीय प्रतीक चिह्नों के अपमान की हिम्मत न जुटा सके। कुशवाहा महासभा के विधिक सलाहकार पंकज कुशवाहा एडवोकेट ने कहा राष्ट्रीय चिन्हों का अपमान करने की स्वतंत्रता संविधान नहीं देता है।बैठक मेें संतोष तिवारी, श्याम मनोहर बाजपेयी, जिलाध्यक्ष नीरज कुशवाहा, जिला छात्रनेता उपेंद्र यादव, युवा जिलाध्यक्ष नीरज सैनी, शैलेंद्र कुशवाहा, जिला महासचिव आशीष सोनी, नगर महासचिव बाबू कठेरिया आदि मौजूद रहे।

यह भी पढ़े :
अखिल भारतीय दलित उत्थान पार्टी

असीम के खिलाफ अशोक सेना ने खोला मोर्चा :-
उन्नाव। अखिल भारतीय अशोक सेना ने राष्ट्रीय चिह्नों के अपमान के लिए कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी की निंदा कर उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की मांग की है।
सोमवार को यहां हुई बैठक में प्रदेश सचिव बालेंद्र तिवारी ने बताया आज देश में भ्रष्टाचार बढ़ने और और शिष्टाचार में कमी से तमाम समस्याएं उत्पन्न हो गई हैं। भ्रष्टाचारियों को लूटखसोट की छूट मिल गई है। इससे संसद में अखाड़े जैसा माहौल बना रहता है। इसका ताजा उदाहरण कार्टूनिस्ट असीम त्रिवेदी है जिन्होंने कानून व्यवस्था की परवाह न करते संविधान व राष्ट्रीय चिह्न के अपमानजनक कार्टून बनाने का दुस्साहस किया। लचीला संविधान होने की वजह से असीम को जमानत पर रिहा कर दिया गया। असीम त्रिवेदी पर कानूनी कार्रवाई की जाए जिससे कोई व्यक्ति राष्ट्रीय प्रतीक चिह्नों के अपमान की हिम्मत न जुटा सके। कुशवाहा महासभा के विधिक सलाहकार पंकज कुशवाहा एडवोकेट ने कहा राष्ट्रीय चिन्हों का अपमान करने की स्वतंत्रता संविधान नहीं देता है।बैठक मेें संतोष तिवारी, श्याम मनोहर बाजपेयी, जिलाध्यक्ष नीरज कुशवाहा, जिला छात्रनेता उपेंद्र यादव, युवा जिलाध्यक्ष नीरज सैनी, शैलेंद्र कुशवाहा, जिला महासचिव आशीष सोनी, नगर महासचिव बाबू कठेरिया आदि मौजूद रहे।

Election Party Notes

Leave a Comment

error: Content is protected !!